काव्यालय की सामग्री पाने ईमेल दर्ज़ करें: हर महीने प्रथम और तीसरे शुक्रवार
वैभव नेहरा
वैभव नेहरा की काव्यालय पर रचनाएँ
कैसे रो दूँ

वैभव नेहरा पेशे से एक सी.ए. (Chartered Accountant) हैं। उनका बचपन हेमोफीलिया से झूझते हुए गुज़रा, जिस कारण स्कूल में उनकी उपस्थिती कम रहती थी। किशोर अवस्था में स्कूल और दोस्तों के साथ पर्याप्त समय ना गुज़ार पाने की वजह से साहित्य और कविता में उनकी रुचि जागी।

उच्च शिक्षा प्राप्त करते वक्त वे हेमोफीलिया के क्षेत्र में काम कर रहे कई संगठनों के संपर्क में आए और उनके साथ बतोर एक स्वयंसेवी कार्य करने लगे। वर्ष 2010 में उन्होने Argentina में आयोजित World Federation of Hemophilia World Congress में विकासशील राष्ट्रों में हेमोफीलिया ग्रस्त लोगों की समस्याओं पर अभिभाषण दिया। इसके बाद उन्होने अन्य कई राष्ट्रिय और अंतर्राष्ट्रीय स्तर के सम्मेलनों में युवाओं का प्रतिनिधित्व किया।

अपने पेशेवर कार्य के अलावा, आजकल वे हिन्दी साहित्य प्रकाशन के क्षेत्र में नयी तकनीकें विकसित करने की दो परियोजनाओं पर काम कर रहे हैं।

सम्पर्क: [email protected]
यू-ट्यूब चैनल: https://www.youtube.com/user/vaibhavnehra


a  MANASKRITI  website